Browsing Tag

सआदत हसन मंटो

पंडित जी, यह मेरा पहला खत है जो आपको भेज रहा हू.

पंडित जी,अस्‍सलाम अलैकुम।यह मेरा पहला खत है जो मैं आपको भेज रहा हूँ। आप माशा अल्‍लाह अमरीकनों में बड़े हसीन माने जाते हैं। लेकिन मैं समझता हूँ कि मेरे नाक-नक्श भी कुछ ऐसे बुरे नहीं हैं। अगर मैं अमरीका जाऊँ तो शायद मुझे हुस्‍न का…
Read More...